ब्रेकिंग न्यूज़ : पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का निधन एम्स दिल्ली में ली अंतिम सांस

ब्रेकिंग न्यूज़ : पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का निधन एम्स दिल्ली में ली अंतिम सांस

पूर्व वित्त मंत्री जेटली का निधन : भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज एवं अनुभवी नेता का शनिवार की दोपहर 12:07 बजे निधन हो गया एम्स दिल्ली में भर्ती कराया गया था। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी ने अपना दुख जताया UAE के दौरे पर PM मोदी, फोन पर अरुण जेटली के परिवार से की बात। पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली पिछले कुछ सालो से विभिन्न बीमारियों से जूझ रहे थे। उनकी आयु 60 वर्ष की थी जेटली के निधन से राजनीतिक जगत में दुख की लहर ,जेटली के निधन पर बॉलीवुड ने जताया शोक- एक और महान नेता खो दिया ,वाजपेयी सरकार में भी बड़ा था अरुण जेटली का कद। नवीनतम अपडेट के लिए ” हिंदी रोजगार अलर्ट ” का अनुसरण करें।

जब भी इन 3 योजनाओं के बारे में बात की जाएगी, देश अरुण जेटली को याद रखेगा।

  1. जीएसटी
    जीएसटी का मतलब है एक राष्ट्र, एक कर। लेकिन इसे लागू करने के लिए अंतिम निर्णय लेना आसान नहीं था। यह केवल पिछली सरकारों में चर्चा की गई थी, लेकिन अरुण जेटली ने साहस दिखाया। आज देश में जीएसटी की गाड़ी सही रास्ते पर चल रही है, इसलिए इसका श्रेय अरुण जेटली को जाता है। इस नई कर प्रणाली में सभी सामानों के लिए कोई अलग कर नहीं देना पड़ता है। इससे पहले 1991 में अर्थव्यवस्था को उदार बनाने के लिए एक बड़ा फैसला लिया गया था। जीएसटी वित्तीय क्षेत्र में सुधार की दिशा में सबसे बड़ा कदम है, अरुण जेटली को इसे लागू करने के लिए हमेशा याद किया जाएगा।
  2. नोटबंदी
    न हम भूले हैं, न आप भूले हैं, और न पूरा देश भूल सकता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 नवंबर, 2016 को नोटबंदी का ऐलान कर 1000 और 500 रुपये की करेंसी को प्रतिबंधित कर दिया था। ऐलान के साथ ही दावा किया कि इस कदम से कालाधन पर लगाम लगेगी। नकली Doasi पकड़ने में मदद मिलेगी। मोदी सरकार के इस फैसले को केंद्रीय रिजर्व बैंक ने ऐलान से महज 4 घंटे पहले मंजूरी दी थी। यानी पूरी तरह तनावपूर्ण तरीके से बनी हुई थी, जिसमें वित्त मंत्री अरुण जेटली की मुख्य भूमिका थी।
  3. जन धन योजना
    जन धन योजना के कारण, आज देश में 35.39 करोड़ से अधिक लोगों के बैंक खाते खुले हैं। आज जन धन खाते इस बात के गवाह हैं कि कैसे इन खातों ने आम आदमी को बचाने के लिए प्रेरित किया है। 2014 में मोदी सरकार द्वारा जन धन योजना शुरू की गई थी। इस योजना को सफल बनाने में अरुण जेटली का बड़ा योगदान है। जेटली की सफल रणनीति की वजह से ही मोदी सरकार ने आज इस योजना को अपनी सबसे बड़ी उपलब्धि बताया है।

CGSEIS Recruitment 2019 – कर्मचारी राज्य बीमा छत्तीसगढ़ भर्ती 2019

हेली आपकी मनपसंद नौकरी यहाँ हैं 

Leave a Comment